पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी: Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindi

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी: दोस्तों हमने और आपने अक्सर देखा और महसूस किया है की जिस प्रकार शरीर का मोटापा हमें निराश करता है, उसी प्रकार पतलापन और कमजोर शरीर हमें अंदर से कुंठित और झगड़ालू बना देता है। जिससे हर आयु वर्ग में निराशा और नकारात्मक विचार पैदा होते हैं। और कोई भी वर्ग इस समस्या से अछूता नहीं है, अब चाहे वह लड़का हो, लड़की हो, महिला हो या पुरुष हो।

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी: Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindi
पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी: Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindi

आमतौर पर लोग मोटापा बढ़ाने के लिए बिना सोचे-समझे दवाओं का इस्तेमाल करना शुरू कर देते हैं, जिसके कुछ अच्छे परिणाम भी मिल सकते हैं, लेकिन ऐसी दवाएं लंबे समय में काफी नुकसान पहुंचा सकती हैं, इसलिए अगर आपको फैट सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल करना है तो आयुर्वेदिक वनस्पति से बनी दवाओं का ही इस्तेमाल करें, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के वजन बढ़ा सकती हैं।

इन दवाओं में पतंजलि मोटा होने की दवा सबसे ऊपर आते हैं, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के वजन बढ़ाते हैं। ये उत्पाद शरीर की कमजोरी को दूर करते हैं, मांसपेशियों को मोटा और मजबूत बनाते हैं, थकान और चक्कर आने की समस्या भी हर समय दूर होती है।

लेकिन दवाओं के साथ-साथ इनके इस्तेमाल की भी पूरी जानकारी होनी चाहिए, इसलिए पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी के इस लेख के माध्यम से हम आपको मोटापा कम करने की पतंजलि दवा के बारे में बता रहे हैं।

तो आइए जानते हैं वजन बढ़ाने की पतंजलि दवा के बारे में।

Also Read: दुबले पतले बच्चों का वजन कैसे बढ़ाएं?

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी: Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindi

दोस्तों यहां दी गई पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी भले ही शारीरिक कमजोरी और दुबलेपन को कम करने में कारगर हो, लेकिन आपको अपने खान-पान और जीवनशैली का भी ध्यान रखना होगा। एक अच्छे शेड्यूल का पालन करने की कोशिश करें और अपने आहार में प्रोटीन, वसा और कार्बोहाइड्रेट शामिल करें।

वजन बढ़ाने की दवा के साथ-साथ हम आपको मोटा होने के लिए बाबा रामदेव के टिप्स (Baba Ramdev Tips For Weight Gain In Hindi) भी बताएगे।

Also Read: टीवी के मरीज को कौन सा फल खाना चाहिए?

पतंजलि बादाम पाक

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी में सबसे पहले बात करते है पतंजलि बादाम पाक की, इस वजन बढ़ाने वाले उत्पाद में वे सभी तत्व होते हैं जो शरीर में ताकत का संचार करते हैं। जिन लोगों की मांसपेशियों में कमजोरी है और जो अपनी ताकत फिर से वापस चाहते हैं, उन्हें इस दवा का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

इस दवा के नियमित सेवन से मांसपेशियों के निर्माण के साथ-साथ दिमाग तेज होता है। पतंजलि बादाम पाक में बादाम को मुख्य घटक के रूप में इस्तेमाल किया गया है जो मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है और याददाश्त को भी तेज करता है।

इस दवा को दो चम्मच दूध में मिलाकर पीने से प्राकृतिक रूप से वजन बढ़ता है।

पेट की चर्बी कम करने का आयुर्वेदिक उपाय 2021

पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी: पतंजलि अश्वगंधा पाउडर मास गेनर की तरह काम करता है जो शरीर की थकान और कमजोरी को दूर करने में कारगर माना जाता है। जो लोग अपने शरीर का आकार बढ़ाना चाहते हैं उनके लिए यह सबसे अच्छा पाउडर साबित होगा।

इस पाउडर के रोजाना इस्तेमाल से टेस्टोस्टेरोन नामक हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है, जिससे मसल्स मास तेजी से बढ़ता है। मैं खुद लंबे समय से इस पाउडर का इस्तेमाल कर रहा हूं और जब से मैंने इस पाउडर का इस्तेमाल करना शुरू किया है, तब से शरीर के आकार और ताकत में काफी बदलाव आया है।

अगर आप बॉडी बिल्डिंग करते हैं तो यह पाउडर आपके लिए बेस्ट रहेगा। यह कोर्टिसोल के स्तर को कम करता है और तनाव से भी छुटकारा दिलाता है, जो शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ मानसिक स्वास्थ्य में भी सुधार करता है।


चना और गुड़ खाने के फायदे

पतंजलि शतावरी चूर्ण

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी: शतावरी चूर्ण महिलाओं के लिए किसी वरदान से कम नहीं माना जाता है, इसके सेवन से गर्भावस्था के दौरान होने वाली कई समस्याओं में राहत मिलती है। जो महिलाएं अधिक कमजोर हैं और जिनके शरीर में हड्डियों के अलावा कुछ नहीं दिखता है, वे इस चूर्ण का नियमित सेवन कर सकती हैं।

यह वजन बढ़ाने वाला पाउडर शरीर में ग्रोथ हार्मोन के स्तर को बढ़ाता है जो शरीर के आकार और वजन को बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा जिन महिलाओं का सीना पूरी तरह ऊपर नहीं आता है या जिनके मां का दूध कम हो गया है, उन्हें भी इस दवा से काफी फायदा मिल सकता है।

पतंजलि शतावरी चूर्ण गाढ़ा करने वाला आयुर्वेदिक चूर्ण है, लेकिन फिर भी इसे बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं लेना चाहिए।


पुराना गुड़ खाने के फायदे

यष्टिमधु चूर्ण

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी: अक्सर देखा जाता है कि जो लोग मोटे होते हैं, उनका मेटाबॉलिज्म गड़बड़ा जाता है, लेकिन जिन लोगों का शारीरिक स्वास्थ्य कमजोर होता है, उनमें कमजोर पाचन की समस्या देखी जाती है।

पाचन शक्ति कमजोर होने के कारण शरीर खाद्य पदार्थों से आवश्यक पोषण ग्रहण नहीं कर पाता है, जिसके कारण कई बार मोटापे की दवा भी अपना असर नहीं दिखा पाती है। अगर आपका वजन भी कमजोर पाचन के कारण नहीं बढ़ रहा है तो यकीन मानिए आपके लिए यष्टिमधु से बेहतर कोई दवा नहीं होगी।

पतंजलि च्यवनप्राश

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी में पतंजलि च्यवनप्राश सबसे अच्छा वजन बढ़ाने वाले टॉनिक में से एक है, इसमें कई ऐसी शक्तिशाली दवाओं का मिश्रण होता है जो मांसपेशियों को मजबूत करने के साथ-साथ हड्डियों को भी मजबूत बनाता है।

इसके अलावा यह पाचन तंत्र में सुधार करके भूख को भी बढ़ाता है, कुछ लोग पतंजलि की भूख बढ़ाने वाली दवा के बारे में पूछते हैं, हम ऐसे लोगों को यह दवा लेने की सलाह देते हैं।

जब भूख बढ़ती है तो व्यक्ति अपने आप अधिक खाता है और जब कोई व्यक्ति अधिक खाता है तो उसकी कैलोरी की मात्रा स्वाभाविक रूप से बढ़ जाती है, वजन भी बढ़ जाता है।

मोटापा कम करने का रामबाण उपाय

Dabur Ashwagandhadi Lehya

वैसे तो यह प्रोडक्ट डाबर ब्रांड का है लेकिन इसमें मौजूद शक्तिशाली आयुर्वेदिक जड़ी बूटी इसे पतंजलि की वजन बढ़ाने वाली दवा जितना ही असरदार बनाती है। अगर आप लंबे समय से मोटापा बढ़ाने के उपाय करके थक चुके हैं तो एक बार इस दवा को जरूर आजमाएं।

मोटापे की इस दवा से मांसपेशियों की ताकत बढ़ती है, मांसपेशियों का आकार बढ़ता है और ताकत भी बढ़ती है। इस आयुर्वेदिक दवा को आप गुनगुने दूध या पानी के साथ ले सकते हैं। इसके नियमित सेवन से आप एक ही महीने में काफी वजन बढ़ाएंगे साथ ही मर्दाना ताकत में भी इजाफा होगा।

वसंत कुसुमाकर रस

पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी में वसंत कुसुमाकर रस पतंजलि मेद कैप्सूल के रूप में आता है। वजन बढ़ाने के साथ-साथ यह दवा याददाश्त और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के लिए सबसे अच्छी मानी जाती है।

वसंत कुसुमाकर रस बढ़ते वजन के साथ-साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है, जिससे शरीर के स्वास्थ्य को बीमारियों से नुकसान नहीं पहुंचता है।

पेट कम करने के घरेलू उपाय

पतंजलि शिलाजीत

पतंजलि शिलाजीत ऊर्जा और शक्ति को बढ़ाने के साथ-साथ सहनशक्ति को भी बढ़ाता है। जो लोग बॉडी बिल्डिंग करके अच्छी बॉडी बनाना चाहते हैं उनके लिए यह सबसे अच्छी दवा है। यह दवा वजन बढ़ाने के साथ-साथ मर्दाना शक्ति को भी बढ़ाती है।

जल्दी मोटा होने के उपाय

दोस्तों पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी के बारे में तो अब आप जान चुके है पर जैसा की मैंने आप से शुरू में ही कहाँ था की पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी भले ही शारीरिक कमजोरी और दुबलेपन को कम करने में कारगर हो, लेकिन आपको अपने खान-पान और जीवनशैली का भी ध्यान रखना होगा।

तो चलिए जल्दी मोटा होने के उपाय में यह जान लेते है की आप को मोटा होने के लिए क्या खाना चाहिये:

अंकुरित अनाज

अगर आप रोजाना अंकुरित चना, गेहूं, सोयाबीन आदि का सेवन करेंगे तो आपको भरपूर प्रोटीन मिलेगा। रोजाना 100 ग्राम अंकुरित अनाज खाने से आपको 11 ग्राम प्रोटीन मिलेगा, जो आपकी दिनचर्या में काफी होगा।

दूध और केला

केला एक ऐसा फल है, जो खाने के तुरंत बाद आपको एनर्जी देता है। अगर आप रोज सुबह शाम एक गिलास दूध और 2 केले खाएंगे तो आपका वजन जरूर बढ़ेगा। 100 ग्राम दूध में 8.2 ग्राम प्रोटीन और 2 ग्राम फैट होता है। साथ ही केले में कार्बोहाइड्रेट होते हैं, जो आपको दिनभर एनर्जी देते हैं।

उबला अंडा और आमलेट

दुबले-पतले लोगों को रोजाना उबला अंडा और अंडे का आमलेट जरूर खाना चाहिए। यह वजन बढ़ाने में काफी कारगर है। अगर आप रोजाना 3 से 4 अंडे का सेवन करते हैं तो आपको 20 ग्राम प्रोटीन और 20 ग्राम फैट एनर्जी के रूप में मिलेगा। इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप रोजाना इतने अंडे जरूर खाएं।

पनीर परांठा और मक्खन

पनीर वैसे भी कई लोगों की पसंदीदा डिश होती है. पनीर को कई रूपों में खाया जाता है. जो लोग अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं, उन्हें आज से ही सुबह के नाश्ते में पनीर पराठा और मक्खन को बिना देर किए अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। इससे अच्छा नाश्ता किसी व्यक्ति के लिए वजन बढ़ाने के लिए नहीं हो सकता। 2 पनीर के परांठे और 1 चम्मच मक्खन में 25 ग्राम प्रोटीन और 22 ग्राम फैट होता है, जो पूरे दिन के लिए पर्याप्त है।

ड्राई-फ्रूट्स

ड्राई फ्रूट्स, जिन्हें ड्राई फ्रूट्स के नाम से भी जाना जाता है, वजन बढ़ाने में काफी असरदार होते हैं। सूखे मेवों में बादाम, काजू, किशमिश, खजूर, खजूर, पिस्ता, अखरोट, मनुका, मूंगफली आदि शामिल हैं। आम आदमी को भी रोजाना कम से कम एक मुट्ठी सूखे मेवे खाने चाहिए। ये हमारे शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा करते हैं।

शुद्ध देसी घी

हमें शुद्ध देसी गी के फायदे बताने की जरूरत नहीं है। आप खुद भी जानते होंगे कि ये शुद्ध देसी घी वजन बढ़ाने में कितनी मदद करता है। जब भी कोई महिला गर्भवती होती है तो उसे ज्यादा से ज्यादा देसी घी खाने को कहा जाता है क्योंकि देसी घी मां और बच्चे के लिए बहुत अच्छा होता है। ये न सिर्फ शरीर में जान लाते हैं, इसके साथ ही चर्बी भी बढ़ती है।

चिकन, मटन और मछली

चिकन, मटन और मछली सबसे अधिक प्रोटीन और वसा के स्रोत हैं। जिसके 100 ग्राम के सेवन से आपको लगभग 28 ग्राम प्रोटीन और 20 ग्राम फैट मिलता है। तो आइए बिना देर किए कमजोर और दुबले शरीर को मोटा और स्वस्थ बनाने के लिए इन स्वादिष्ट व्यंजनों का उपयोग करते हैं।

अंतिम शब्द

तो दोस्तों आज मैंने आप को पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी (Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindie Fayde) के बारे में बताया है और मैं आशा करता हु की आप को इनसे जरुर फायदा होगा. हालांकि यह जानकारी हमने आपको सामान्य जानकारी के आधार पर बताएं है। अगर आपको किसी प्रकार की एलर्जी या कोई समस्या है तो चिकित्सक से सलाह लेकर ही काम करें।

Disclaimer

यह लेख केवल सामान्य जानकारी प्रदान करता है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर से सलाह लें। CodeMaster इस जानकारी की जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Leave a Comment

x