गले में घुटन के कारण व उपचार | Gale Me Ghutan Ke Karan

गले में घुटन के कारण – मौसम में तेज़ी से बदलाव आने के कारण, ज्यादातर लोग गले की किसी ना किसी परेशानी जूझते है। ऐसे मौसम में सर्दी जुकाम और खांसी लोगों में आम होता है। बदलते मौसम में कुछ लोगों को गले में कुछ फंसा हुआ (गले में घुटन) महसूस होता है जिसकी वजह से खाने-पीने में बेहद परेशानी होती है।

गले में घुटन के कारण व उपचार | Gale Me Ghutan Ke Karan
गले में घुटन के कारण व उपचार | Gale Me Ghutan Ke Karan

ऐसे में गला पका हुआ महसूस होता है साथ ही गले में लगातार दर्द भी रहता है। गले की इस परेशानी की वजह से गले में खराश भी होने लगती है। आप भी बदलते मौसम में गले की इस समस्या से परेशान हैं तो हम आपको बताते हैं कि गले में घुटन के कारण (Gale Me Ghutan Ke Karan) क्या-क्या हो सकते है और इसका बेहतरीन उपचार क्या है।

Also Read – पेट में गैस क्यों बनती है?

गले में घुटन के कारण | Gale Me Ghutan Ke Karan

जब गले में घुटन महसूस हो तो इसकी पीछे यूवुला में सूजन आना है। यूवुला मांस का एक छोटा सा टुकड़ा होता है और जब यूवुला में सूजन आने लगती है तो गले में कुछ फंसा हुआ महसूस होता है। ऐसे में कुछ भी खाने पीने में परेशानी होती है।

यूवुला की मदद से मुंह का खाना अंदर की ओर धकेलना सम्भव हो पाता है। ये झिल्ली और मांसपेशियों के ऊतक से बना होता है। ये काफी लचीला होता है। हमारे शरीर में ऐसी कई प्रतिक्रियाएं होती हैं, जिनकी वजह से यूवुला में सूजन हो जाती है और यह गले में घुटन के कारण में से एक सबसे महत्वपूर्ण कारण हैं।

Also Read – पतंजलि मोटा होने की दवा हिंदी

गले में घुटन महसूस होने के लक्षण-

जब गले में सूजन, कुछ अटका या फिर घुटन महसूस होती है तो इसकी वजह से कुछ भी खाने पीने में परेशानी होने लग जाती है। बार-बार गले में बलगम और द्रव जैसा महसूस होता है। गले में बार-बार खराश होती है, सीने में जलन होना, सांस लेने में परेशानी होना, निगलने में गांठ जैसा लगना यह सभी समस्या दिखें तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

गले में घुटन के घरेलु उपाए

1. बर्फ से करें गले की सिकाई:

अगर आपको लगातार यह समस्या हो रही है तो आप बर्फ लें। इसे चूसने से आपको दर्द से राहत मिलेगी। बर्फ चूसने से यूवुला की सूजन की समस्या कम होती है जिससे धीरे-धीरे दर्द कम हो जाता है। 

2. तुलसी का पानी पीएं

हर मौसम में तुलसी असरदार है। तुलसी का पानी हो या फिर चाय इसके सेवन से गले की खराश, सर्दी जुकाम की समस्या दूर होती है। अगर आप गले में कुछ अटका हुआ महसूस कर रहे हैं तो इस स्थिति में भी तुलसी का पानी काफी फायदेमंद रहेगा।

Also Read – गले में इन्फेक्शन के लक्षण

3. शहद के साथ चाय पीएं

चाय गले की बेहतरीन सीकाई करती है,इसे और ज्यादा खास बनाने के लिए आप इसमें शहद मिलाकर इसका सेवन करें। शहद सर्दी जुकाम में काफी कारगर होता है। इससे गले की खराश और सूजन की समस्या से निजात मिलती है।

4. गर्म पानी से गरारे करें

सबसे बढ़िया और सस्ता इलाज है गरारे करें। जी हां पानी गर्म में नमक मिलाकर गरारे करें। ऐसा आप दिन में 2 बार करें आपको राहत मिलेगी।

5. हल्दी वाला दूध पीएं 

रात को सोने से पहले 1 गिलास गर्म दूध में 1 टीस्पून हल्दी और चुटकी भर काली मिर्च डालकर पीएं। इससे गले की सूजन ठीक हो जाएगी।

6. इमली के पानी से करें कुल्ला

इमली में भी विटामिन सी भरपूर होता है। खराश होने पर इमली के पानी से कुल्ला करें। ध्यान रखें कि आपको इमली के पानी के सिर्फ गरारे करने से इसे पीना नहीं है।

7. गर्म पानी की भांप लें

गले में भारीपन या दर्द महसूस हो तो तुरंत भाप लें। किसी बर्तन में पानी गर्म करके तौलिए से मुंह ढककर भाप लें। ऐसा करने से गले के दर्द से राहत मिलेगी।

8. लहसुन को चबाएं

लहसुन में कुदरती एंटीसैप्टिक गुण मौजूद होते हैं जो इन्फेक्शन से बचाव करने का काम करते हैं। लहसुन की एक कली को मुंह में रखकर चूसे, इसका रस गले में जाने से आराम मिलेगा।

अंतिम शब्द

तो दोस्तों आज मैंने आप को गले में घुटन के कारण व उपचार (Gale Me Ghutan Ke Karan) के बारे में बताया है और मैं आशा करता हु की आप को इनसे जरुर फायदा होगा. हालांकि यह जानकारी हमने आपको सामान्य जानकारी के आधार पर बताएं है। अगर आपको किसी प्रकार की एलर्जी या कोई समस्या है तो चिकित्सक से सलाह लेकर ही काम करें।

Disclaimer

यह लेख केवल सामान्य जानकारी प्रदान करता है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर से सलाह लें। CodeMaster इस जानकारी की जिम्मेदारी नहीं लेता है।

 

Leave a Comment

x